उत्साह सूर्यकांत त्रिपाठी निराला प्रश्न और उत्तर Class 10

Utsah Questions and Answers Class 10

प्रश्न 1. कवि बादल से फुहार, रिमझिम या बरसने के स्थान पर ‘गरजने’ के लिए कहता है, क्यों? 

उत्तर: कवि ने बादल से फुहार डालने, रिमझिम या बरसने के लिए नहीं बल्कि गरजने के लिए कहा क्योंकि कवि क्रांतिकारी थे। वे समाज में बदलाव लाना चाहते थे इसलिए जनता में चेतना जागृत करने के लिए और जोश जगाने के लिए कवि बादल से फूहर, रिमझिम या बरसने के लिए ना कहकर ‘गरजने’ के लिए कहता है। क्योंकि कवि बादलों को क्रांति का सूत्रधार मानता है और ‘गर्जना’ विद्रोह का प्रतीक है।

प्रश्न 2. कविता का शीर्षक उत्साह क्यों रखा गया है?

उत्तर: कवि क्रांति के लिए लोगों को उत्साहित करना चाहते हैं। कवि ने बादलों के माध्यम से लोगों में उत्साह का सृजन करने को कहा है। क्योंकि बादलों में भीषण गति होती है और उसी के कारण वह संसार के ताप हरता हैं। बादलों का गर्जना लोगों के मन में परिवर्तन करने का उत्साह भर देता है, इसलिए कविता का शीर्षक उत्साह रखा गया है।

प्रश्न 3. कविता में बादल किन-किन अर्थों की ओर संकेत करता है।

उत्तर: कविता में बादल निम्नलिखित अर्थों की ओर संकेत करता है:

१. बादल प्यासे जन और तप्त धरती को शीतलता प्रदान करता है।

२. बादल गर्जन कर लोगों में क्रांतिकारी चेतना को जागृत करता है।

३. बादल जल बरसाकर सब को नया जीवन प्रदान करता है।

प्रश्न 4. शब्दों का ऐसा प्रयोग जिससे कविता के किसी खास भाव्या दृश्य में ध्वन्यात्मक प्रभाव पैदा हो, नाद-सौंदर्य कहलाता है। उत्साह कविता में ऐसे कौन-से शब्द हैं जिनमें नाद-सौंदर्य मौजूद है, छांटकर लिखें।

उत्तर: कविता की इन पंक्तियों में नाद-सौंदर्य मौजूद है- 

1. घेर घेर घोर गगन, धराधर ओ!

2.विद्युत-छबि उर में

3. ललित ललित, काले घुंघराले, बाल कल्पना के-से पाले

अट नहीं रही प्रश्न और उत्तर Class 10

2 thoughts on “उत्साह सूर्यकांत त्रिपाठी निराला प्रश्न और उत्तर Class 10”

Leave a Reply

%d bloggers like this: