रासायनिक अभिक्रियाएं एवं समीकरण प्रश्न और उत्तर Chapter-1 Science in Hindi Medium Class 10

NCERT Solutions for Class 10 Science Chapter-1 in Hindi Medium Rasayanik Abhikriya Evam Samikaran Questions and Answers

पेज: 6(a)

प्रश्न1. वायु में जलाने से पहले मैग्नीशियम रिबन को साफ़ क्यों किया जाता है?

उत्तर: मैग्नीशियम एक बहुत ही अभिक्रियाशील धातु है। जो ऑक्सीजन के साथ अभिक्रिया करके अपनी सतह पर मैग्नीशियम ऑक्साइड की एक पतली परत बना देती है। मैग्नीशियम ऑक्साइड की परत मैग्नीशियम की ऑक्सीजन के साथ अभिक्रिया को रोकती है। इसलिए वायु में जलाने से पहले मैग्नीशियम रिबन से इस परत को हटाया जाता है।

प्रश्न2. निम्नलिखित रासायनिक अभिक्रियाओं के लिए संतुलित समीकरण लिखिए:

(i) हाइड्रोजन + क्लोरीन हाइड्रोजन क्लोराइड

(ii) बेरियम क्लोराइड + एल्युमिनियम सल्फेट बेरियम सल्फेट + एलुमिनियम क्लोराइड 

(iii) सोडियम + जल सोडियम हाइड्रोक्साइड + हाइड्रोजन

उत्तर

(i) H2 (g) + Cl2 (g) → 2HCI (g)

(ii) 3BaCl2 (s) + Al2(SO4)3 (s) → 3BaSO4 (s) + 2AICl3 (s)

(iii) 2Na (s) + 2H2O (l) → 2NaOH (aq) + H2 (g)

प्रश्न3. निम्नलिखित अभिक्रियाओं के लिए उनकी अवस्था के संकेतों के साथ संतुलित रासायनिक समीकरण लिखिए:

(i) जल में बेरियम क्लोराइड तथा सोडियम सल्फेट के विलयन अभिक्रिया करके सोडियम क्लोराइड का विलयन तथा अघुलनशील बेरियम सल्फेट का अवक्षेप बनाते हैं।

(ii) सोडियम हाइड्रोक्साइड का विलयन (जल में) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल के विलयन (जल में) से अभिक्रिया करके सोडियम क्लोराइड का विलयन तथा जल बनाते हैं।

उत्तर: (i) BaCl2 (aq) + Na2SO4 (aq) → BaSO4 (s) + 2NaCl (aq)

(ii) NaOH (aq) + HCI (aq) → NaCl (aq) + H2O (l)

पेज: 6(b)

प्रश्न1. किसी पदार्थ ‘X’ के विलयन का उपयोग सफेदी करने के लिए होता है:

(i) पदार्थ x का नाम तथा इसका सूत्र लिखिए।

(ii) ऊपर (i) में लिखे पदार्थ ‘x’ की जल के साथ अभिक्रिया लिखिए।

उत्तर: (i) पदार्थ ‘x’ का नाम कैल्शियम ऑक्साइड है और इसका सूत्र CaO है।

(ii) कैल्शियम ऑक्साइड जल के साथ अभिक्रिया करके बुझे हुए चूने (कैल्शियम हाइड्रोक्साइड) का निर्माण करता है।

CaO(s) + H2O(l) → Ca(OH)2 (aq)

प्रश्न2. क्रियाकलाप 1.7 में एक परखनली में एकत्रित गैस की मात्रा दूसरी से दोगुनी क्यों है? उस गैस का नाम बताइए।

उत्तर: जल (H2O) में दो भाग हाइड्रोजन और एक भाग ऑक्सीजन है। इसलिए जल के विद्युत् अपघटन के दौरान एक परखनली में एकत्रित गैस (हाइड्रोजन) की मात्रा दूसरे परखनली उत्पादित गैस (ऑक्सीजन) की मात्रा से दोगुनी है। परखनली में एकत्रित गैस हाइड्रोजन (H2) है।

पेज: 15

प्रश्न 1. जब लोहे की कील को कॉपर सल्फेट के विलयन में डुबोया जाता है तो विलयन का रंग क्यों बदल जाता है?

उत्तर: जब लोहे की कील को कॉपर सल्फेट के विलयन में डुबोया जाता है तब होगा ऊपर को कॉपर सल्फेट के विलयन से विस्थापित कर देता है किससे फैरस सल्फेट का निर्माण होता है और विलयन का रंग बदल जाता है।

अभिक्रिया:

Fe (s) + CuSO4 (aq) → FeSO4 (aq) + Cu (s)

प्रश्न1. क्रियाकलाप 1.10 से भिन्न ट्विविस्थापन अभिक्रिया का एक उदाहरण दीजिए |

उत्तर: 2KBr (aq) + Bal2 (aq) → 2KI (aq) + BaBr2 (aq)

प्रश्न2. निम्न अभिक्रियाओं में उपचयित तथा अपचयित पदार्थों की पहचान कीजिए:

(i) 4Na (s) + O2 (g) → 2Na2O (s)

(ii) CuO (s) + H2 (g) Cu (s) + H2O (l)

उत्तर: (i) सोडियम(Na) का उपचयन या ऑक्सीकरण होता है क्योंकि इसमें ऑक्सीजन की वृद्धि हो रही है। 

(ii) कॉपर ऑक्साइड (CuO) में ऑक्सीजन का ह्रास हो रहा है इसलिए यह अपचयित हुआ है तथा हाइड्रोजन में ऑक्सीजन की वृद्धि हो रही है इसलिए यह उपचयित हुआ है।

अभ्यास

प्रश्न1. नीचे दी गई अभिक्रिया के सम्बन्ध में कौन-सा कथन असत्य है?

2PbO (s) + C (s) 2Pb (s) + CO2 (g)

(a) सीसा अपचयित हो रहा है। 

(b) कार्बन डाइऑक्साइड उपचयित

(c) कार्बन उपचयित हो रहा है।

(d) लेड ऑक्साइड अपचयित हो रहा है।

(i) (a) एवं (b) 

(ii) (a) एवं (c) 

(iii) (a). (b) एवं (c)

(iv) सभी

उत्तर: (i) (a) एवं (b)

प्रश्न2. Fe2O3 + 2AI Al2O3 + 2Fe

ऊपर दी गई अभिक्रिया किस प्रकार की है? 

(a) संयोजन अभिक्रिया

(b) विविस्थापन अभिक्रिया

(c) वियोजन अभिक्रिया

(d) विस्थापन अभिक्रिया

उत्तर: (d) विस्थापन अभिक्रिया

प्रश्न3. लौह चूर्ण पर तनु हाइड्रोक्लोटिक अम्ल डालने से क्या होता है? सही उत्तर पर निशान लगाइए:

(a) हाइड्रोजन गैस एवं आयरन क्लोटाइड बनता है।

(b) क्लोटीन गैस एवं आयरन हाइड्रोक्साइड बनता है।

(c) कोई अभिक्रिया नहीं होती है।

(d) आयरन लवण एवं जल बनता है।

उत्तर: (a) हाइड्रोजन गैस एवं आयरन क्लोटाइड बनता है।

प्रश्न4. संतुलित रासायनिक समीकरण क्या है? रासायनिक समीकरण को संतुलित करना क्यों आवश्यक है?

उत्तर: जिस रसायनिक अभिक्रिया में उत्पाद तत्वों के परमाणुओं की संख्या अभिकारक तत्वों के परमाणुओं की संख्या के बराबर होती है उसे संतुलित रसायनिक समीकरण कहा जाता है।

‘द्रव्यमान के संरक्षण का नियम’ भांग ना हो इसके लिए समीकरण का संतुलित होना आवश्यक है।

प्रश्न5. निम्न कथनों को रासायनिक समीकरण के रूप मे परिवर्तित कर उन्हें संतुलित कीजिए: 

(a) नाइट्रोजन हाइड्रोजन क्या है इस से सहयोग करके अमोनिया बनाता है।

(b) हाइड्रोजन सल्फाइड गैस का वायु में दहन होने पर जल एवं सल्फर डाइऑक्साइड बनता है। 

(c) एलुमिनियम सल्फेट के साथ अभिक्रिया कर बेरियम क्लोराइड, एलुमिनियम क्लोराइड एवं बेरियम सल्फेट का अवक्षेप देता है। 

(d) पोटेशियम धातु जल के साथ अभिक्रिया करके पोटेशियम हाइड्रोक्साइड एवं हाइड्रोजन गैस देती है।

उत्तर:

(a)3H2 (g) + N2 (g) → 2NH3 (g)

(b) 2H2S (g) + 3O2 (g) → 2H2O (l) + 2SO2 (g)

(c) 3BaCl2 (aq) + Al2(SO4)3 (aq) → 2AICl3 (aq) + 3BaSO4 (s)

(d) 2K (s) + 2H2O (l) → 2KOH (aq) + H2 (g)

प्रश6. निम्न रासायनिक समीकरणों को संतुलित कीजिए:

(i) HNO3 + Ca(OH)2 Ca(NO3)2 + H₂O

(ii) NaOH + H₂SO4 → Na2SO4+H₂O

(iii) NaCl + AgNO3 AgCl + NaNO3

(iv) BaCl2 + H2SO4 BaSO4 + HCI

उत्तर:

(i) 2HNO3 + Ca(OH)2 → Ca(NO3)2 + 2H2O

(ii) 2NaOH + H2SO4 → Na2SO4 + 2H2O

(iii) NaCl + AgNO3 → AgCl + NaNO3

(iv) BaCl2 + H2SO4 → BaSO4 + 2HCI

प्रश्न7. निम्न अभिक्रियाओं के लिए संतुलित रासायनिक समीकरण लिखिए:

(a) कैल्शियम हाइड्रोक्साइड + कार्बन डाइऑक्साइड → कैल्शियम कार्बोनेट + जल 

(b) जिंक + सिल्वर नाइट्रेट जिंक नाइट्रेट + सिल्वर

(c) एलुमिनियम + कॉपर क्लोराइड एलुमिनियम क्लोराइड + कॉपर 

(d) बेरियम क्लोराइड + पोटैशियम सल्फेट बेरियम सल्फेट + पोटैशियम क्लोराइड

उत्तर: (a) Ca(OH)2 + CO2 → CaCO3 + H2O

(b) Zn + 2AgNO3 → Zn(NO3)2 + 2Ag

(c) 2Al + 3CuCl2 → 2AICl3 + 3Cu

(d) BaCl2 + K2SO4 → BaSO4 + 2KCI

प्रश्न8. निम्न अभिक्रियाओं के लिए संतुलित रासायनिक समीकरण लिखिए एवं अभिक्रिया का प्रकार बताइए: 

(a) पोटैशियम ब्रोमाइड (aq) + बेटियम आयोडाइड (aq) पोटेशियम आयोडाइड (aq) + बेरियम ब्रोमाइड (s)

(b) जिंक कार्बोनेट (s) जिंक ऑक्साइड (s) + कार्बन डाइऑक्साइड (g) 

(c) हाइड्रोजन (g) + क्लोटीन (g) हाइड्रोजन क्लोराइड (g)

(d) मैग्नीशियम (s) + हाइड्रोक्लोरिक अम्ल (aq) मैग्नीशियम क्लोराइड (aq) + हाइड्रोजन (g)

उत्तर

(a) 2KBr (aq) + Bal2 (aq) → 2KI (aq) + BaBr2 (s) 

यह अभिक्रिया द्विविस्थापन अभिक्रिया है।

(b) ZnCO3 (s) → ZnO (s) + CO2 (g) 

यह अभिक्रिया वियोजन अभिक्रिया है।

(c) H2 (g) + Cl2 (g) → 2HCI (g) 

यह अभिक्रिया संयोजन अभिक्रिया है।

(d) Mg (s) + 2HCI (aq) → MgCl2 (aq) + H2 (g) 

यह अभिक्रिया विस्थापन अभिक्रिया है।

प्रश्न9. ऊष्माक्षेपी एवं ऊष्माशोषी अभिक्रिया का क्या अर्थ है? उदाहरण दीजिए।

उत्तर: ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया: जिस अभिक्रिया में उत्पाद के साथ ऊष्मा का भी उत्सर्जन होता है उसे ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया कहते हैं।

जैसे: C6H12O6 + 6O2 → 6CO2 + 6H2O + ऊर्जा

ऊष्माशोषी अभिक्रिया: जिस अभिक्रिया में ऊष्मा का अवशोषण होता है उसे ऊष्माशोषी अभिक्रिया कहते हैं।

जैसे: CaCO3 + ऊष्मा → CaO + CO2

प्रश्न10. ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया किसे कहते हैं? वर्णन कीजिए।

उत्तर: ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया- जिस रासायनिक अभिक्रिया में उत्पादों के साथ ऊष्मा भी निकलती है उसे ऊष्माक्षेपी अभिक्रिया कहते है।

उदाहरण:

C6H12O6 + 6O2 → 6CO2 + 6H2O + ऊर्जा

प्रश्न11. वियोजन अभिक्रिया को संयोजन अभिक्रिया के विपरीत क्यों कहा जाता है? इन अभिक्रियाओं के लिए समीकरण लिखिए।

उत्तर: वियोजन अभिक्रिया : अभिक्रिया जिसमे एकल पदार्थ वियोजित हो कर दो या दो से अधिक पदार्थों का निर्माण करता है, वियोजन अभिक्रिया कहलाता है।

उदाहरण: CaCO3 → CaO + CO2

संयोजन अभिक्रिया : वह अभिक्रिया जिसमें दो या दो से अधिक पदार्थ मिलकर एक पदार्थ का निर्माण करते हैं संयोजन अभिक्रिया कहलाती है।

उदाहरण: CaO + H2O → Ca(OH)2

प्रश्न12. उन वियोजन अभिक्रियाओं के एक-एक समीकरण लिखिए जिनमें ऊष्मा, प्रकाश एवं विद्युत् के रूप में ऊर्जा प्रदान की जाती है।

उत्तर: CaCO3 (s) → CaO(s) + CO2

2AgCl → 2Ag(s) + Cl2(g)

2H2O(l) → 2H2(g) + O2 (g)

प्रश्न13. विस्थापन एवं द्विविस्थापन अभिक्रियाओं में क्या अंतर है? इन अभिक्रियाओं के समीकरण लिखिए।

उत्तर: विस्थापन अभिक्रिया : वह अभिक्रिया जिसमे एक तत्व दूसरे तत्वों को उसके योगिकों से अलग कर देता है।

उदाहरण: CuSO4 (aq) + Fe (s) → FeSO4 (aq) + Cu (s)

द्विविस्थापन अभिक्रिया : वे अभिक्रियाएँ जिनमे दो यौगिकों के आयन परस्पर विनिमय होकर नये यौगिक बनते है , द्विविस्थापन अभिक्रिया कहलाती है।

उदाहरण : Na2SO4 (aq) + BaCl2 (aq) → BaSO4 (s) + 2NaCl (aq)

प्रश्न14. सिल्वर के शोधन में, सिल्वर नाइट्रेट के विलयन से सिल्वर प्राप्त करने के लिए कॉपर धातु द्वारा विस्थापन किया जाता है। इस प्रक्रिया के लिए अभिक्रिया लिखिए।

उत्तर: 2AgNO3 (aq) + Cu (s) → Cu(NO3)2 (aq) + 2Ag (s) 

सिल्वर नाइट्रेट +   कॉपर →  कॉपर नाइट्रेट +  सिल्वर

प्रश्न15. अवक्षेपण अभिक्रिया से आप समझते हैं? उदाहरण देकर समझाइए।

उत्तर: ऐसी अभिक्रिया जिसमें अविलेय लवण प्राप्त होता है उसे अवक्षेपण अभिक्रिया कहते हैं।

उदाहरण : Na2CO3 (aq) + CaCl2 (aq) + CaCO3 (s) + 2NaCl (aq)

प्रश्न16. ऑक्सीजन के योग या हास के आधार पर निम्न पदों की व्याख्या कीजिए | प्रत्येक के लिए दो उदाहरण दीजिए। 

(a) उपचयन (b) अपचयन

उत्तर: (a) उपचयन : वह अभिक्रिया जिसमे ऑक्सीजन में वृद्धि हो और हाइड्रोजन का ह्रास हो उसे उपचयन अभिक्रिया कहा जाता है।

उदाहरण :

2Mg + O2 → 2MgO

(b) अपचयन : वह अभिक्रिया जिसमे ऑक्सीजन का ह्रास और हाइड्रोजन में वृद्धि हो उसे अपचयन अभिक्रिया कहा जाता है।

उदाहरण :

CuO + O2 → Cu + H2O

प्रश्न17. एक भूरे रंग का चमकदार तत्व ‘X’ को वायु कि उपस्थिति में गर्म करने पर वह काले रंग का हो जाता है। इस तत्व ‘X’ एवं उस काले रंग के यौगिक का नाम बताइए।

उत्तर: भूरे रंग का तत्व ‘X’ कॉपर है। कॉपर को गर्म करने पर उस पर कॉपर ऑक्साइड की काली परत चढ़ जाती है। 

समीकरण:

2Cu +  O2 → 2CuO

प्रश्न18. लोहे की वस्तुओं को हम पेंट क्यों करते हैं?

उत्तर: हम लोहे की वस्तुओं पर पेंट इसलिए करते हैं ताकि लोहे की सतह का वायुमंडल की गैसों और नमी के साथ संपर्क टूट जाए। जिससे कि उस पर जंग नहीं लगता और वस्तुएं लंबे समय तक उपयोगी बनी रहती है।

प्रश्न19. तेल एवं वसायुक्त खाद्य पदार्थों को नाइट्रोजन से प्रभावित क्यों किया जाता है?

उत्तर: नाइट्रोजन अक्रियाशील गैस है। तेल एवं वसा युक्त खाद्य पदार्थों का उपचयन ना हो सके इसके लिए उन्हें नाइट्रोजन से प्रभावित किया जाता है।

प्रश्न20. निम्न पदों का वर्णन कीजिए तथा प्रत्येक का एक-एक उदाहरण दीजिए:

(a) संक्षारण

(b) विकृतगंधिता

उत्तर: (a) संक्षारण : जब कोई धातु वायुमंडल के संपर्क में आती है तो वायुमंडल में उपस्थित नमी या ऑक्सीजन के साथ अभिक्रिया करके अवांछित पदार्थ जैसे ऑक्साइड यह हाइड्रोक्साइड कार्बोनेट आदि में परिवर्तित हो जाती है। धातुओं का अवांछित यौगिकों में परिवर्तन को ही संक्षारण कहते हैं।

(b) विकृतगंधिता : जब किसी तेल या वसा युक्त खाद्य पदार्थ के स्वाद एवं गंध में उपचयित होकर परिवर्तन आता है, तो यह घटना विकृतगंधिता कहलाती है।

More

अम्ल, क्षारक एवं लवण प्रश्न और उत्तर

1 thought on “रासायनिक अभिक्रियाएं एवं समीकरण प्रश्न और उत्तर Chapter-1 Science in Hindi Medium Class 10”

Leave a Reply

%d bloggers like this: